गुरु नानक जयंती 2023 – इन पांच अमूल्य सीखों को जानकर मनाएं गुरुपर्व 2023, सारा जीवन होगा और भी महका हुआ।

गुरु नानक जयंती 2023: नमस्कार दोस्तों इस साल 2023 में गुरु नानक जी की जयंती नवंबर 27 को मनाई जा रही है क्यूंकि इस दिन साल की कार्तिक पूर्णिमा है। गुरु नानक जी की जयंती सिख समुदाय में एक विशष महत्व रखता है क्यूंकि इसी दिन सिख धर्म के पहले धर्म गुरु जी का जन्म हुआ था। आज हम अपनी इस पोस्ट के माध्यम से गुरु नानक जी की जयंती के बारे में जानने के साथ-साथ गुरु नानक देव जी द्वारा बताई गयी पांच अमूल्य सीखों को भी जानेगे जिनको हम अपने जीवन में अपनाने से अपने जीवन को और भी महका हुआ बना सकते हैं।

गुरु नानक जयंती 2023
गुरु नानक जयंती 2023

गुरु नानक जयंती 2023: गुरु नानक जयंती को गुरुपर्व के नाम से भी जाना जाता है। गुरु नानक देव जी के जन्मदिन के रूप में गुरुपर्व या गुरु नानक जयंती को मनाया जाता है। गुरुपर्व को प्रकाश उत्सव भी कहा जाता है तथा ये सिख धर्म का सबसे बड़ा पर्व होता है। सिख धर्म का सबसे बड़ा पर्व होने के कारण सिख धर्म के लोग इसे बड़ी श्रद्धा और उत्साह से मनाते हैं। इस दिन गुरु नानक देव जी का जन्म हुआ था, गुरु नानक देव जी सिख धर्म के पहले गुरु थे। हिन्दू धर्म की पंचांग के हिसाब से गुरुपर्व हर वर्ष कार्तिक महीने की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है इसीलिए गुरुपर्व का दिन हर साल बदल जाता है, गुरु नानक देव जी का जन्म साल 1469 के अप्रैल महीने की 15 तारीक को तलवंडी नामक जगह पर हुआ था जो आज के समय में पाकिस्तान के पंजाब में है।

गुरु नानक जयंती 2023
गुरु नानक जयंती 2023

 

गुरु नानक जयंती 2023:

सिख धर्म के दस गुरु हुए और गुरु नानक देव जी सिख धर्म के पहले गुरु थे इन्होने ने ही सिख धर्म की स्थापना की थी। गुरु नानक देव जी अपने व्यक्तित्व में बहुत प्रकार के गुण समेटे हुए थे जैसे की दार्शनिक, योगी, गृहस्त, समाज सुधारक, धर्म सुधारक, देश भगत, कवी, विश्वबंधु इत्यादि। गुरु नानक देव जी का बचपन से ही शांति, धर्म, पवित्रता इत्यादि में बहुत ज्यादा विश्वाश था और उन्होंने बचपन से ही आध्यात्मिकता की राह चुन ली थी। गुरु नानक देव जी ने अपने जीवन का ज्यादातर समय इसी में बिताया। गुरु नानक देव जी ने बिना सन्यास लिए ही अध्यात्म की राह को चुन लिया था। गुरु नानक देव जी का मानना था की इंसान को अपने सभी कर्मो का पालन करना चाहिए और वो सन्यास धारण करके सांसारिक जीवन से रुख नहीं कर सकता। गुरु नानक देव जी का मानना था की ईश्वर या भगवान को मानने के लिए हमारा मन साफ होना चाहिए। सिख धर्म के इस महापर्व की शुरुआत इस दिन से तीन दिन पहले हो जाती है। सिख धर्म के लोग गुरु नानक देव जी के भजनो को गाते हुए गुरुद्वारे से प्रभात फेरी निकालते हैं इसके साथ साथ 48 घंटों तक गुरुद्वारों में अखंड पाठ भी किया जाता है। गुरुपर्व के दिन सुबह पांच बजे से प्रभात फेरी निकली जाती है प्रभात फेरी के बाद लोग गुरुद्वारों में कथा सुनने जाते हैं जहां गुरुग्रंथ साहिब का पाठ किया जाता है।

Happy Guru Nanak Jayanti - 2023
Happy Guru Nanak Jayanti – 2023

आज गुरु नानक देव जी की 554वीं जयंती मनाई जा रही है तो आइये अब हम गुरु नानक देव जी के द्वारा बताई गई पांच सीखों के बारे में जानते हैं जिनको हम अपने जीवन में अपना कर अपने जीवन को और भी महका सकते हैं।

सरलता और मितव्ययिता

गुरु नानक देव जी ने बहुत ही सादगी भरा और मितव्ययी जीवन जीया, और गुरु नानक देव जी ने उपलब्ध साधनों के अंदर जीवन जीने को महत्व दिया। इससे हमें सोच समझ कर खर्च करने, अपने भविष्य के लिए बचत करने तथा बेकार के खर्चों से बचने की सीख मिलती है जो की हमारे जीवन के लिए बहुत महत्पूर्ण है।

सच्ची मेहनत और ईमानदारी

गुरु नानक देव जी ने सच्ची मेहनत तथा ईमानदरी की कमाई को बहुत महत्व दिया। गुरु नानक देव जी ईमानदारी और मेहनत की कमाई में बहुत गहरा विश्वास रखते थे। गुरु नानक देव जी का जीवन हमें मेहनत से काम करने, ईमानदारी की कमाई करने और ऐसे खर्चे जिनकी जरुरत नहीं हो उनसे बचने की शिक्षा देता है।

सहभागिता और सद्भाव

गुरु नानक देव जी ने समाज को सहभागिता के साथ रहने के विचार को महत्त्व दिया। गुरु नानक देव जी ने सेवा और सद्भाव की धारणा को भी महत्त्व दिया। इससे हमे सहभागिता और सद्भाव से रहने की सीख मिलती है।

आर्थिक योजनाओं को महत्व

गुरु नानक देव जी ने समझदारी से खर्च करके बचत करने और उसको निवेश करने को महत्त्व दिया हालाँकि गुरु नानक देव जी ऐसे समय में रहते थे जब आर्थिक योजनाओं के महत्व की धरना मौजूद नहीं थी। इससे हमे समझदारी से खर्च करने, वचत करने और सही से निवेश करने और भविष्या में जरुरत के समय धन को इस्तेमाल करने की शिक्षा मिलती है।

गुरु नानक जयंती 2023: गुरु नानक देव जी के द्वारा दी गयी शिक्षाओं और सिद्धांतो को अपने जीवन में उतार कर हम अपने जीवन में कई तरह के बदलाव करके अपने जीवन को महका सकते हैं।

FAQ:

Q.1. गुरु नानक जयंती कौन लोग मनाते हैं?

Ans. गुरु नानक जी की जयंती सिख धर्म के लोग मानते हैं।

Q.2. गुरु पर्व कब है 2023 में?

Ans. 27 नवंबर, 2023.

Q.3. गुरु नानक कौन सी भाषा बोलते थे?

Ans. पंजाबी।

Q.4. गुरु नानक ने कौन सा धर्म चलाया?

Ans.  सिख धर्म।

Q.5. गुरु नानक देव जी के कितने पुत्र थे?

Ans.  गुरु नानक देव जी के दो पुत्र थे।

Conclusion

आज की हमारी इस पोस्ट गुरु नानक जयंती 2023 में हमने सबसे पहले ये जाना की गुरु नानक जी जयंती क्यों मनाई जाती है और इसका क्या महत्व है और इसके बाद हमने जाना की गुरु नानक जी की जयंती कब मनाई जाती है और इसके पीछे क्या कारण है। 2023 में गुरु नानक जी की जयंती नवंबर, 27 को मनाई जा रही है। हमारी इस पोस्ट गुरु नानक जयंती 2023 में हमने गुरु जी के द्वारा दी गयी पांच मुख्या सीखों के बारे में भी जाना जो सरलता और मितव्ययिता, सच्ची मेहनत और ईमानदारी, सहभागिता और सद्भाव और आर्थिक योजनाओं को महत्व हैं। हमने ये भी जाना की किस तरह गुरु जी ने इन सब को अपने जीवन में उतार कर सबको इनको अपनाने की सीख दी है। इन सीखों को अपनी जिंदगी में लाने से हम भी अपने जीवन को बहुत अच्छा बना सकते हैं। इसके बारे में ज्यादा जानने के लिए Amarujala के इस लिंक पर क्लिक करें। आशा है आप को हमारी ये पोस्ट गुरु नानक जयंती 2023 अच्छी लगी होगी और पसंद आयी होगी। हमारी इस पोस्ट में लास्ट तक बने रहने के लिए धन्यवाद।

READ MORE:

Visa Free Entry in Malaysia for Indians – 
भारतीय यात्रीओं के लिए खुशखबरी, 1 दिसंबर से शुरू होगी सुविधा।

Leave a Comment

दमदार बैटरी लाइफ के साथ आ रहा है realme का नया स्मार्टफोन Realme GT 6T शानदार मेचा डिज़ाइन के साथ भारत में लांच हुआ Infinix GT 20 Pro 5G जानें फीचर्स – News Kiran। Infinix GT 20 Pro 5G भारत में हुआ लांच मिलेगा 108MP का कैमरा और 12जीबी रैम, जानें कीमत – News Kiran। सिर्फ इतने में मिलेगा 8GB रैम और 128GB स्टोरेज वाला Motorola Edge 50 Fusion स्मार्टफोन – News Kiran।
दमदार बैटरी लाइफ के साथ आ रहा है realme का नया स्मार्टफोन Realme GT 6T शानदार मेचा डिज़ाइन के साथ भारत में लांच हुआ Infinix GT 20 Pro 5G जानें फीचर्स – News Kiran। Infinix GT 20 Pro 5G भारत में हुआ लांच मिलेगा 108MP का कैमरा और 12जीबी रैम, जानें कीमत – News Kiran।